Welcome to RRC NCR ALLAHABAD

 

विषयः- दैनिक हिन्दुस्तान तथा अन्य समाचार पत्रों में आरआरसी का पर्चा लीक संबंधी समाचार दिनांक 01.12.2014

आरआरसी/उमरे/इलाहाबाद द्धारा कुल 1160675 (ग्यारह लाख साठ हजार छः सौ पचहत्तर) अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा हेतु रेलवे बोर्ड द्धारा निर्धारित पाॅंच तिथियों में दो पाली में तीन शहरों में बुलाया गया था। उक्त परीक्षा में कुल करीब 150 केन्द्र प्रत्येक दिन बनाये गये है। जिसमें इलाहाबाद, आगरा तथा कानपुर तीनों शहरों में प्रत्येक दिन लगभग 2.5 लाख अभ्यर्थियों को परीक्षा हेतु बुलावा पत्र भेजा गया था।

आरआरसी द्धारा आयोजित परीक्षाओं में परीक्षा पूर्व प्रत्येक केन्द्र की जानकारी, तिथि तथा अन्य विवरण जिला प्रषासन, पुलिस प्रषासन, रेलवे सतर्कता विभाग तथा इंटलीजेंस ब्यूरो, पुलिस की स्पेषल टास्क फोर्स को परीक्षा के दौरान विभिन्न जाॅंच इत्यादि हेतु दिया जाता है। परीक्षा के दौरान प्रत्येक केन्द्र में रेलवे का एक अधिकारी तथा सामान्यतः रेलवे का एक कर्मचारी प्रत्येक कक्ष में उपस्थित होता है।

परीक्षा के दौरान विभिन्न एजेंसियों तथा आम नागरिकों द्धारा परीक्षा में कदाचार संबंधी सूचना प्रेषित की जाती है। जिसे समय रहते विभिन्न स्टेक होल्डरस् को उचित कार्यवाही हेतु प्रेषित किया जाता है। उक्त संबंध में अवगत कराना है कि बड़ी संख्या में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का हाथ इनमें सामने आता है।

कुछ मामले परीक्षा के दौरान नकल सामग्री के साथ अभ्यर्थी के पकड़े जाने के भी आते हैं। जिसमें बहुतायत मामलों में नकल सामग्री फर्जी पायी गयी है।

समाचारपत्र में प्रकाषित समाचार में कथित दिलीप कुमार पासवान को रेलवे के कक्ष निरीक्षक श्री जे.सी.बाला (मोबाईल नं. 9889995447) ने नकल पर्ची के साथ परीक्षा शुरू होने के एक घंटे बाद अर्थात् सांय चार बजे पकड़ा था। (परीक्षा का समय 3.00 से 4.30 तक) जिसे उन्होंने स्कूल में उपस्थित सतर्कता विभाग की टीम को सौंप दिया। इसकी पुष्टि केन्द्र पर्यवेक्षक श्री इन्द्रपाल, सहायक कार्मिक अधिकारी तथा स्कूल प्रबंधक श्री अनिल त्रिवेदी ने भी की है। श्री बाला के अनुसार उक्त अभ्यर्थी कक्ष में सबसे बाद में आया था और उस समय तक अन्य अभ्यर्थियों को प्रष्न पत्र वितरित हो चुके थे। केन्द्र प्रबंधन द्धारा नकल संबंधी एफआईआर, थाना धूमनगंज, इलाहाबाद में की गई है।

समाचार पत्र में दस अभ्यर्थियों को पुलिस द्धारा गिरफ्तार करने की सूचना पूर्णतया गलत है। इसके साथ ही ग्रेटर नोएडा में पाॅंच अभ्यर्थियों द्धारा हल प्रष्न पत्र प्राप्त करने की सूचना अखबार में दी गई है। रेल भर्ती प्रकोष्ठ, इलाहाबाद द्धारा ग्रेटर नोएडा में कोई परीक्षा संपन्न नहीं होती है।

अतः स्पष्ट किया जाता है कि अखबार में प्रचारित पर्चा लीक संबंधी समाचार पूर्णतया तथ्यहीन (Baseless) है।

सादर सूचनार्थ।

(संजीव कुमार)
चेयरमैन/आरआरसी
उमरे/इलाहाबाद